भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने सत्येंद्र जैन से बिना शर्त मांगी माफी, कोर्ट में कहा- नहीं है उनके पास सबूत

नई दिल्ली। तकरीबन 3 साल पहले दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन पर भष्टाचार का गंभीर आरोप लगाने वाले भारतीय जनता पार्टी के नेता कपिल मिश्रा ने क्षमा मांग ली है। बताया जा रहा है कि माफी मांगने के बाद कपिल मिश्रा और सत्येंद्र जैन ने आपस में मामला सुलझा लिया है। बताया जा रहा है कि यह माफी कोर्ट के समक्ष मांगी गई है। कुछ साल पहले तत्काली आम आदमी पार्टी के नेता कपिल मिश्रा ने सत्येंद्र जैन पर करोड़ों रुपये के भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था, जिसके बाद सत्येंद्र जैन ने उनपर मानहानि का केस कर दिया था। वहीं, भाजपा नेता कपिल मिश्रा के माफी मांगने के बाद राउज़ एवेन्यू कोर्ट में मानहानि के मुकदमे को सत्येंद्र जैन ने वापस ले लिया है। मिली जानकारी के मुताबक, दोनों ने आपसी समझौते के बाद अदालत ने इस केस को खत्म कर दिया। बृहस्पतिवार को इस बाबत सत्येंद्र जैन पत्रकार वार्ता कर मुद्दे पर अपना पक्ष रखेंगे।

इस केस को लेकर आम आदमी पार्टी ने ट्वीट किया है- ‘सत्य की जीत होती है. कपिल मिश्रा ने सत्येंद्र जैन से बिना किसी शर्त के माफी मांग ली है। इससे ये साबित होता है कि ये सब आरोप राजनीति से प्रेरित थे।’

वहीं, आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने कपिल मिश्रा के माफी मांगने पर ट्विट किया है- ‘याद है जब कपिल मिश्रा को मंत्री पद से हटाया गया था तो उसने सत्येंद्र जैन पर 2 करोड़ रुपये लेने का आरोप लगाया था। आज उस मामले में बहुत बड़ी जीत हुई है। कपिल मिश्रा ने कोर्ट में जज के सामने माफी मांगी है। उसने कहा मेरे पास सबूत नहीं है और मैंने कभी नहीं देखा। बेशर्म इंसान।’

बता दें कि दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने सत्येंद्र जैन पर आरोप लगाया था कि उन्होंने 2 करोड़ रुपये की रिश्वत दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को दी है। इस आरोप को लेकर वह लगातार मीडिया में बयान भी दे रहे थे। इसके बाद मई, 2017 में सत्येंद्र जैन ने दिल्ली की कोर्ट में मानहानि का मुकदमा किया था। अब करीब साढ़े तीन साल के बाद कपिल मिश्रा ने इस केस में बिना किसी शर्त के माफी मांग ली है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News