Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में बडगाम में मारे गए दो आतंकवादी

श्रीनगर। जम्‍मू-कश्‍मीर में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया है। बडगाम जिले के माचुवा में मंगलवार को उस समय गोलियों की आवाज गूंज उठी, जब वहां छिपे आतंकियों को पकड़ने के लिए सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान शुरू किया। देर रात तक मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकियों को घेर रखा था, जिन्‍हें ढेर कर दिया गया है। पुलिस ने इसकी जानकारी दी है।

आतंकी ठिकाने के आसपास स्थित मकानों से सुरक्षाबलों ने करीब दो दर्जन लोगों को आतंकियों की गोलीबारी के बीच ही सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया। लालचौक से करीब 12 किलोमीटर दूर माचुवा में आतंकियों को देखे जाने की सूचना मिलते ही शाम को पुलिस ने सेना और सीआरपीएफ के जवानों के साथ मिलकर तलाशी अभियान चलाया। तलाशी लेते हुए जवान जब अरिबाग मागरे मोहल्ले में दाखिल हुए तो एक मकान में छिपे आतंकियों ने उन्हें देख लिया।

आतंकियों ने जवानों की घेराबंदी तोड़ भागने के लिए पहले ग्रेनेड फेंका और फिर फायरिंग की। जवानों ने खुद को बचाते हुए जवाबी फायर कर आतंकियों के भागने के मंसूबे को नाकाम बना दिया। इसके साथ ही मुठभेड़ शुरू हो गई। अधिकारियों ने बताया कि आतंकी एक मकान में छिपे हुए थे। उन्हें बार-बार सरेंडर के लिए कहा गया, लेकिन वे फायरिंग करते रहे। तंकियों के ठिकाने के आसपास के मकानों से करीब दो दर्जन लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया। रात के अंधेरे में आंतंकी भागने न पाएं, इसके लिए चारों तरफ से घेराबंदी करते हुए लाइट्स भी लगाई गई। आतंकियों की सही संख्या पता नहीं चल पाई,, लेकिन फायरिंग को देखते हुए आतंकी दो से तीन हो सकते हैं। आतंकियों का संबंध जैश-ए-मोहम्मद से हो सकता है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News