Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

प्रधानमंत्री मोदी दुनियाभर की दिग्गज एनर्जी कंपनियों के प्रमुखों से अक्टूबर 26 को करेंगे बात

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दुनिया की दिग्गज तेल एवं गैस कंपनियों के सीईओ के साथ सोमवार को बातचीत करेंगे। इस सालाना कार्यक्रम का आयोजन नीति आयोग और पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय कर रहा है। प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक अपनी सीरीज की इस पांचवीं बैठक में प्रमुख तेल एवं गैस कंपनियों के करीब 45 सीईओ शामिल होंगे।

बैठक का मकसद भारतीय तेल एवं गैस में निवेश बढ़ाने, रणनीतियों पर वैश्विक मंच प्रदान करना है

बैठक का मकसद सुधारों पर चर्चा करने, भारतीय तेल एवं गैस में निवेश बढ़ाने और रणनीतियों की जानकारी के लिए एक वैश्विक मंच प्रदान करना है। भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा ऊर्जा उपभोक्ता देश है और बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए वर्ष 2030 तक यहां तेल एवं गैस क्षेत्र में 300 अरब डॉलर से अधिक निवेश होने का अनुमान है।

भारत कच्चे तेल का तीसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता तथा चौथा सबसे बड़ा एलएनजी आयातक है

पीएमओ के अनुसार भारत वैश्विक तेल एवं गैस क्षेत्र में महत्वपूर्ण देश है। कच्चे तेल का तीसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता तथा चौथा सबसे बड़ा एलएनजी आयातक है।

सोमवार की बैठक में तेल एवं गैस कंपनियों के 45 सीईओ होंगे शामिल

सोमवार की बैठक में अबू धाबी नेशनल ऑयल कंपनी (एडनॉक) के सीईओ तथा संयुक्त अरब अमीरात के उद्योग और अत्याधुनिक प्रौद्योगिक मामलों के मंत्री, कतर के ऊर्जा मंत्री और कतर पेट्रोलियम के चेयरमैन, ओपेक के महासचिव, रूस की कंपनी रोसनेफ्ट के सीईओ और चेयरमन, बीपी लि. के सीईओ, टोटल एसए फ्रांस के चेयरमैन और सीईओ, अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी के कार्यकारी निदेशक, अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा मंच के महासचिव समेत अन्य प्रमुख कंपनियों के शीर्ष अधिकारी होंगे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News