Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

भारत माता की पवित्र जमीन पर चीन का कब्जा, फिर भी एक शब्द नहीं बोले पीएम मोदी: राहुल गांधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ सैन्य गतिरोध को लेकर मोदी सरकार को सवालों के कटघरे में खड़ा किया। उन्होने पूछा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन को लेकर क्यों नहीं बोल रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि PM नहीं चाहते कि देश के लोगों का ध्यान इस पर जाए कि चीन ने हमारी ज़मीन पर कब्ज़ा कर लिया है।

पीएम के पास शब्द क्यों नहीं?
राहुल गांधी ने पत्रकारों के साथ बातचीत में कहा कि चीन ने हमारी 1200 स्क्वायर किलोमीटर ज़मीन पर कब्ज़ा किया है। PM के पास भारत माता की ज़मीन पर कहने के लिए एक भी शब्द क्यों नहीं है। वहीं इससे पहले भी उन्होंने प्रधानमंत्री को घेरते हुए कहा था कि मैं उनसे सुनना चाहूंगा कि चीन भारतीय क्षेत्र को कब छोड़ेगा। लेकिन मैं आपको इस बात की गारंटी देता हूं कि प्रधानमंत्री में ये बताने की हिम्मत नहीं होगी, प्रधानमंत्री चीन के बारे में एक शब्द नहीं बोलेंगे।

राहुल ने मोदी सरकार पर लगाया आरोप 
राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री चीन के बारे में एक शब्द नहीं कहते हैं। मुझे नहीं लगता कि दुनिया में आज कोई भी देश ऐसा है जहां एक विदेशी शक्ति किसी देश की जमीन ले ले और नेतृत्व इसपर जवाब तक नहीं दे। मेरे लिए यह बहुत आश्चर्यजनक है। इसलिए मैं चाहूंगा कि प्रधानमंत्री राष्ट्र को बताएं कि भारतीय क्षेत्र से चीनी सैनिकों को कब बाहर किया जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी के नेतृत्व वाली सरकार देश में बुनियादी ढांचे को कमजोर कर रही है। हरेक नागरिक के लिए इसे समझना जरूरी है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News