Cover
ब्रेकिंग
याेगी सरकार ने लव जिहाद कानून काे दी मंजूरी, साधू संतों ने फैसले का किया स्वागत अहमद पटेल के निधन पर बोले दिग्विजय- वे सभी कांग्रेसियों के लिए हर राजनैतिक मर्ज़ की दवा थे विजय सिन्‍हा चुने गए स्‍पीकर ,पक्ष में पड़े 126 वोट, विपक्ष में 114 नगरोटा साजिश के पीछे था पाक का हाथ! आतंकियों के पास से मिले डिवाइस ने खोले कई राज राहुल गांधी ने किए तरुण गोगोई के अंतिम दर्शन, बोले- मैंने अपने गुरु को खो दिया चौहान, कमलनाथ, दिग्विजय, सिंधिया ने पटेल के निधन पर शोक व्यक्त किया अहमद पटेल के निधन पर बोले दिग्विजय- वे सभी कांग्रेसियों के लिए हर राजनैतिक मर्ज़ की दवा थे आज तमिलनाडु के तटों से टकराएगा 'निवार', MP में दिखेगा असर, बदलेंगे मौसम के मिजाज UP के बाद मध्य प्रदेश में जल्द बनेगा लव जेहाद के खिलाफ कानून, गृहमंत्री ने बुलाई अहम बैठक पश्चिम रेलवे की पहली किसान रेल सेवा शुरु, सांसद शंकर लालवानी ने दिखाई हरी झंडी

कृषि मंत्री ने कमलनाथ को बताया धोखेबाज, कर्जमाफी पर बोले- हम किसानों का कर्जा माफ नहीं करेंगे

ग्वालियर: कृषि मंत्री कमल पटेल ने किसान कर्जमाफी पर कांग्रेस पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि कमलनाथ ने किसानों के साथ धोखाधड़ी की है। इसलिए उनके खिलाफ किसान एफआईआर दर्ज कराएं। उन्होंने साफ कहा कि हमने कभी नहीं कहा कि हम किसानों का कर्जा माफ करेंगे। इसलिए हम क्यों करें किसानों का कर्जा माफ।

वही कृषि मंत्री कमल पटेल ने जीतू पटवारी पर पलटवार करते हुए कहा कि उनकी मानसिक स्थिति खराब हो गई है और सत्ता जाने से वे बौखला गये हैं कृषि मंत्री ने कहा जीतू पटवारी किसान की मौत के बाद राजनीतिक रोटियां सैकने हरदा गये थे लेकिन उन्हें वहा से भगा दिया इस कारण ऐसे बयान दे रहे हैं।उन्होंने साफ कहा कि उन्होंने कभी शराब छुई नहीं मैं चाय भी डॉक्टर की सलाह पर पीता हूं। जीतू पटवारी ने जो मेरे बारे में कहा है वह गलत हैं। कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि हम कमल की तरह खुशबू दे रहे है और धोखाधड़ी और अमानत में खयानत करने पर कामलनाथ और जीतू पटवारी पर एफआईआर दर्ज होना चाहिये।

कृषि बिल पर हंगामे को लेकर पटेल ने कहा कि इसको लेकर भ्रमपूर्ण स्थिति पैदा की जा रही है। जबकि मंडी रहेंगी सभी को समर्थन मूल्य मिलेगा। मोदी सरकार का उद्देश्य केवल बिचौलियों को हटाकर किसान को फायदा पहुंचाना है, बीजेपी जो बोलती है वह करके दिखाती है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News