Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

CSK का सामना DC की युवा टीम से, क्या Dhoni बल्लेबाजी क्रम में करेंगे बदलाव

दुबई। चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) शुक्रवार को आत्मविश्वास से भरी दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) में अपने तीसरे मुकाबले से पहले बल्लेबाजी क्रम में कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के स्थान पर विचार करना चाहेगी। शारजाह की बल्लेबाजी के मुफीद पिच पर राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मिली हार के लिए उनके स्पिनरों के खराब प्रदर्शन और निराशाजनक 20वें ओवर को जिम्मेदार ठहराया जा सकता है। लेकिन, बल्लेबाज खुद को पूरी तरह से इससे दोषमुक्त नहीं कर सकते, विशेषकर मुरली विजय, केदार जाधव और खुद कप्तान धौनी।

धौनी सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे थे। उन्होंने सैम कुर्रन, जाधव और रुतुराज गायकवाड़ को खुद से पहले बल्लेबाजी से भेजा, लेकिन यह रणनीति उनके लिए बुरी तरह से विफल रही, जिससे फाफ डुप्लेसिस पर कम समय में काफी ज्यादा रन बनाने का दबाव बढ़ गया।

धौनी के प्रशंसक उनके छक्के जड़ने की काबिलियत के अब भी मुरीद हैं, लेकिन करीब से देखा जाए तो वह तेज गेंदबाजों के खिलाफ तेजी से नहीं खेल पाए और जब मध्यम गति के गेंदबाज टॉम कुर्रन गेंदबाजी करने उतरे तो ही धौनी आक्रामक हो गए और वह भी तब हुआ, जब मुकाबला ही खत्म हो चुका था।

दिल्ली कैपिटल्स के लिए शुरुआती मैच में जीत से उसके खिलाड़ियों का आत्मविश्वास काफी बढ़ गया है, हालांकि रविचंद्रन अश्विन के कंधे की चोट के कारण अनुपस्थित होने की संभावना से उन्हें अपने गेंदबाजी लाइन अप में कुछ फेरबदल करना पड़ सकता है। अगर अश्विन नहीं खेल पाते हैं तो सीनियर स्पिनर अमित मिश्रा को अक्षर पटेल के जोड़ीदार के तौर पर उतारने का विकल्प हो सकता है।

बड़ी बाउंड्री से कलाई के स्पिनरों को गेंद को और अधिक उछाल दिलाकर आक्रमण करने में मदद मिल सकती है। एक अन्य पहलू तेज गेंदबाज मोहित शर्मा के प्रदर्शन का होगा। मोहित ने शुरू में लोकेश राहुल को आउट किया था, लेकिन अंत में उनकी ढीली गेंदों से कैपिटल्स के लिए चीजें मुश्किल हो गईं, हालांकि कैगिसो रबादा ने अंत में काफी कसी गेंदबाजी की।

सीएसके जैसी टीम अंतिम 10 ओवरों में आक्रमण करना पंसद करती है तो कैपिटल्स हर्षल पटेल को आजमा सकते हैं जो किसी स्थान पर एक बल्लेबाज के तौर पर भी काम आ सकते हैं क्योंकि वह घरेलू क्रिकेट में पारी का आगाज कर चुके हैं। एनरिक नोत्र्जे आइपीएल के अपने पहले मैच में इतने खराब नहीं रहे, लेकिन बायें हाथ के डेनियल सैम्स कुछ मुश्किल कोण में गेंदबाजी कर सकते हैं, जो बल्लेबाजों को नापसंद होता है।

शिमरोन हेटमायर को एक और मौका मिलने की संभावना है, अगर रिकी पोंटिंग एलेक्स कैरी के रूप में कुछ स्थिरता लाने के बारे में नहीं सोचते हैं। दिल्ली की टीम में पृथ्वी शॉ, शिखर धवन, रिषभ पंत, कप्तान श्रेयस अय्यर और पिछले मैच के नायक मार्कस स्टोइनिस जैसे बिग हिटर हैं, जो पीयूष चावला और रवींद्र जडेजा को चुनौती देना चाहेंगे।

दोनों टीम :

दिल्ली कैपिटल्स : श्रेयस अय्यर (कप्तान), रविचंद्रन अश्विन, शिखर धवन, पृथ्वी शॉ, शिमरोन हेटमायर, कैगिसो रबादा, अजिंक्य रहाणे, अमित मिश्रा, रिषभ पंत (विकेटकीपर), इशांत शर्मा, अक्षर पटेल, संदीप लामिछाने, कीमो पॉल, डेनियल सैम्स, मोहित शर्मा, एनरिक नोत्र्जे, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), आवेश खान, तुषार देशपांडे, हर्षल पटेल, मार्कस स्टोइनिस और ललित यादव।

चेन्नई सुपर किंग्स: महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान), मुरली विजय, अंबाती रायुडू, फाफ डुप्लेसिस, शेन वॉटसन, केदार जाधव, ड्वेन ब्रावो, रवींद्र जडेजा, लुंगी नगिदी, दीपक चाहर, पीयूष चावला, इमरान ताहिर, मिशेल सेंटनर, जोश हेजलवुड, शार्दुल ठाकुर, सैम कुर्रन, एन जगदीशन, केएम आसिफ, मोनू कुमार, आर साई किशोर, रुतुराज गायकवाड़, कर्ण शर्मा।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News